Advertisements

“मैडम! बेटे के दिल मे छेद और जेठ जेठानी करते हैं मारपीट”

-समाजसेवी संजय के साथ डेजी ठाकुर से मिली पीड़ित शांति

 मनीष ठाकुर (कुल्लू) 

House of Amigos

House of Amigos | For a great adventure in Manali !

“मैडम मेरा बेटा पिछले लंबे समय से बीमार है और उसके दिल में छेद है। मैं पहले ही अपने बेटे की बीमारी के चक्कर में परेशान हूं और ऊपर से मेरे जेठ और जेठानी भी आए दिन मारपीट करते रहते हैं। वह हमें कई बार से घर से निकालने की भी धमकी दे चुके हैं अब ऐसे में न्याय मांगने के लिए मैं किसके पास जाऊं।”

Kullu news

कुल्लू में आयोजित एक सम्मेलन में भाग लेने पहुंची राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा डेजी ठाकुर के समक्ष दोहरा नाला क्षेत्र के बुराग्राकी रहने वाली शांति ठाकुर ने अपनी शिकायत रखी। वहीं हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध समाजसेवी संजय शर्मा ने भी डेजी ठाकुर से मिलकर पीड़ित परिवार की व्यथा उन्हें बताइए और जल्द से जल्द उन्हें न्याय दिलाने की भी मांग रखी।

पीड़ित शांति देवी व उसके पति सुरेश ने बताया कि उनके बेटे के दिल में छेद है और वह इसके इलाज के चक्कर में दर-दर भटक रहे हैं। वही वह एक छोटे से कमरे में रहते हैं लेकिन उनके भाई भाभी भी लगातार उन्हें वहां से निकालने की कोशिश कर रहे हैं जिससे वह बुरी तरह से हताश हो गए हैं। उन्होंने डेजी ठाकुर से मांग रखी कि जल्द ही उन्हें इस मामले में न्याय दिलाया जाए ताकि वह आराम से अपने घर में रह सके और अपने बेटे का इलाज भी करवा सके।

वहीं समाजसेवी संजय शर्मा ने कहा कि उनके ध्यान में यह मामला आया तो वह धर्मशाला से इसके लिए कुल्लू पहुंचे। उन्होंने जब शांति देवी के घर का मुआयना किया तो उनकी खराब स्थिति को देखकर वह भी काफी परेशान हो गए। संजय शर्मा ने बताया कि उनका एक छोटा सा कमरा जो काफी बुरी स्थिति में है। वह भी बरसात के चलते कभी भी ढह सकता है ऊपर से बेटे के दिल की बीमारी के चलते भी काफी परेशान हो गए हैं। उन्होंने कहा कि इस मसले के चलते हुए पीड़ित परिवार को राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा के पास लाया और उन्होंने इस पूरे मामले को उनके समक्ष रखा है। वहीं उन्होंने डेजी ठाकुर से भी मांग रखी कि जल्द से जल्द इस मामले पर प्रशासन को कार्यवाही के निर्देश जारी किए जाएं ताकि यह परिवार आराम से अपने घर पर रह सके। वही जो भी व्यक्ति ने धमकाने का प्रयास कर रहा उस पर भी कड़ी कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाए। वही पीड़ित शांति देवी व उसके पति सुरेश कुमार ने बताया कि काफी समय से वे अपने घरवालों के प्रताड़ना का शिकार हो रहे हैं। तो ऐसे में उनकी जिला प्रशासन से मांग है कि जल्द से जल्द इस प्रताड़ना से छुटकारा दिलाया जाए और बेटे की बीमारी के इलाज के लिए भी प्रशासन की ओर से मदद की जाए।

Hostel in Manali

House of Amigos, Top rated best boutique Youth Hostel in Manali

Leave a Reply